Radio Jockey

पूर्व में रेडियो जॉकी, ऐसे सेलेब्रिटी हुआ करते थे जो लोगों के बीच ख़ासा मशहूर थे. पर कुछ समय से टीवी और सोशल मीडिया के बढ़ते चलन के बीच इनका आकर्षण कम हुआ है. पर एक कमाल की बात ये है कि जो भी रेडियो के पक्के श्रोता है वो आज भी चाहे कितनी भी सूचना क्रांति आ जाए, फिर भी रेडियो सुनने को ही प्राथमिकता देते हैं. रेडियो शुरुआत से ही मनोरंजन का उत्कृष्ट स्त्रोत रहा है, हो भी क्यूं न, संगीत हर किसी के दिन को खूबसूरत बना देता है और रेडियो में फ़िल्मी गानों का अधिकतर कॉन्टेंट होता है जो रेडियो पर विभिन्न अंतराल और समयानुसार चलता है. गुदगुदाती बातें , RJs के मज़ेदार किस्से रेडियो को एक सम्पूर्ण माध्यम बनाती हैं. अगर आपको भी ये दुनिया लुभाती है और आप इस इंडस्ट्री में अपना भविष्य देखते हैं, तो निश्चित ही आज का ये लेख आपको इस प्यारी सी दुनिया की करीब से झलक पाने में मदद करेगा. 

1) रेडियो जॉकी ही क्यूँ ?

पहले ये ज़रूर तय करें कि आप आखिर इस डगर क्यूँ जाना चाहते हैं. एक रेडियो आर्टिस्ट का करियर काफी विविधताओं से भरा होता है. आपको लोगों से बात करना पसंद है, हंसमुख स्वभाव है, जीवन को आशावादी दृष्टिकोण से देखते हैं और कोई भी बात या माहौल को अपने तर्क वितर्क से आप मज़ेदार बना सकते हैं, तो ये करियर क्षेत्र आपके लिए है. पहले ये तय करें कि क्या इन में से कोई भी खूबी आपसे मिलती जुलती है या नहीं, अगर आप इस तरह की फितरत रखते हैं तो बेशक आपको इस क्षेत्र में जाना चाहिए. इस करियर क्षेत्र में जहां शोहरत है वहाँ अच्छा ख़ासा पैसा भी है. दोनों चीज़ें और काम ऐसा जिसे आप हर पल एन्जॉय करें, इससे अच्छा और क्या हो सकता है. इसके अलावा इस इंडस्ट्री में आप अपने तरह के और लोगों से भी मिलते हैं साथ ही कुछ अच्छा और क्रिएटिव करने का मौका भी मिलता है. आप समाज को अपने कॉन्टेंट और सकारात्मक सोच से ज़िन्दगी की तरफ प्रेरित भी करते हो. क्या पता आपकी कौन सी बात किसी के चेहरे पर मुस्कान ले आये. आज कई रेडियो स्टेशन नयी आवाज़ की तलाश में रहते हैं जो उनके श्रोताओं का हर पल मनोरंजन कर सकती है और ऐसी उम्मीद करते हैं की आप रोज़ नए, ताज़े कॉन्टेंट, प्रतियोगिताओं, श्रोताओं को कॉल-इन के माध्यम से रोचक तथ्यों और मनोरंजन से रूबरू करवाएं. ये सब आपका पूरा समर्पण और अपने काम पे प्रति दिलचस्पी मांगता है और इसी से आप रोज़ अच्छा कॉन्टेंट प्रस्तुत कर सकते हैं.

2) रेडियो जॉकी के तौर पर शुरुआत कैसे करें ? 

रेडियो आर्टिस्ट को आप दो तरह की श्रेणियों में बाँट सकते हैं. एक जो कमर्शियल रेडियो यानी प्राइवेट FM रेडियो चैनल के लिए काम करते हैं जिनको आप ज़्यादातर मोर्निंग शो, खेल प्रोग्राम, ट्रैफिक अपडेट या म्यूज़िक शो में सुनते हो और दूसरे वो जो पब्लिक रेडियो स्टेशन यानी NPR जैसे : AIR इत्यादि के लिए काम करते हैं, ये ज़्यादातर टॉक शो जिनमें क्विज़ कॉम्पिटीशन, न्यूज़ संचार या संगीत कार्यक्रम होस्ट करते हैं. आप किसी भी करियर में जा सकते हैं मगर दोनों की पहले ट्रेनिंग लेना ज़रूरी है. 

ऐसे बहुत सारे तरीके हैं जिनसे आप इस प्रोफेशन के लिए तैयार हो सकते हैं. 

हर स्टेशन विभिन्न प्रकार के क्वालिफिकेशन मांगता है और पूर्व में मीडिया से जुड़े हुए लोगों के लिए अतिरिक्त लाभ है कि उनको प्राथमिकता पहले दी जाती है. मगर एक स्किल जो कॉमन है वो है लोगों से जुड़ने की प्रतिभा. चाहे आप बॉलीवुड सेलिब्रिटीज के बारे में चटपटी खबरों को शामिल करें या श्रोताओं से मैराथन, चैरिटी रेस की खबरों  के माध्यम से जुड़ें आपके अन्दर की ऊर्जा और आपकी लीडरशिप स्किल्स ये दोनों, रेडियो प्रोडक्शन में ख़ासा मायने रखती हैं. चाहे आप किसी भी तरह के शो और केटेगरी में चुने जाएँ , ये बाद की प्रक्रिया है पर उससे पहले ज़रूरी है अपने कॉन्टेंट को निखारने और बात चीत के लहजे पर काम. 

3) इंडस्ट्री की प्रसिद्धि, आय और भविष्य 

रेडियो जॉकी की आय उनकी प्रसिद्धि और उनके अनुभव के आधार पर होती है. ज़्यादातर RJs को उनके वर्किंग टाइम के हिसाब से पे किया जाता है. औसतन RJs ₹25000 से  ₹1 लाख प्रति महीना कमा लेते हैं. अच्छे सुप्रसिद्ध रेडियो जॉकी ₹ 2 लाख तक भी कमाते हैं. 100 मिलियन से ऊपर की भी आबादी वाले देश में करोड़ों लोग रेडियो सुनते हैं और आज रेडियो ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में विस्तृत रूप से फैला हुआ है.अच्छे RJs अपनी मांग के अनुसार आराम से इनकम बना सकते हैं. एक बात जो ध्यान देने योग्य है, वो ये है की किसी भी प्रोफेशन में प्रसिद्धि समय के साथ आती है और जो रेडियो के प्रति कमिटेड होते हैं वो इस इंडस्ट्री में 3 साल से भी ज्यादा टिक जाते हैं. बस कुछ समय के सब्र और लगातार मेहनत आपको इस क्षेत्र में ऊँचाइयों तक ले जा सकती है. 

4) शुरुआत करने से पहले कुछ ख़ास बातें  

रेडियो जॉकी, बड़े ही सहज और सरल भाव से लोगों तक पहुँच जाते हैं और इसी वजह से उन्हें काम दिया जाता है. ये नॉन वर्बल और वर्बल दोनों ही तरह के कम्युनिकेशन में एक्सपर्ट होते हैं. ये न सिर्फ दबाव में भी अच्छा काम कर पाते हैं बल्कि ढेर सारी पब्लिक के सामने भी अपने अंदाज़ से माहौल बना देते हैं. चाहे खेल की खबरें हों या रिलेशनशिप के बारे में सलाह, कोई भी मुद्दा इनसे अनछुआ नहीं. ये किसी भी विषय पर बात कर सकते हैं. कई लोगों के साथ काम करना और निरंतर इम्प्रूव करना ये इनके रोज़ाना प्रयास रहते हैं. इनकी शख्सियत इनको लोगों के बीच ख़ास बनाती है. कई बार स्थिति खराब होने पर कैसे संभाली जाती है, ये कोई उनसे सीखे. जो लोग इस क्षेत्र में जाना चाहते हैं उनको ब्रॉडकास्टर के वेब साइट्स और लोकल जॉब बोर्ड्स चेक करने चाहिए जहां अक्सर नियुक्तियां निकलती रहती हैं. 

निष्कर्ष 

आज प्रतियोगिता से भरे दौर में जब तक आप कुछ अलग हट कर अपने स्किल्स नहीं दिखाते , तक तक आपको काम मिलना थोड़ा चुनौतीपूर्ण हो सकता है.बीते समय में शायद आप किसी पुराने प्रोफाइल के लिए न चुने गए हों मगर इस बात से हताश न होते हुए अपनी स्किल्स को सुधारने और अपनी काबिलियत को स्थापित करने पर विशेष ध्यान दें. आजकल मार्केट में ज़रूरत है मल्टी टास्कर की और अगर आप क्रिएटिव हैं, तो RJing, ये करियर आपका इंतज़ार कर रहा है. ज़रुरत है तो सही ढंग से इस प्रोफेशन के बारे में पूर्व रूप से सीखने की, जो अब बड़ा ही आसान है क्यूंकि आप एनरोल कर सकते हो द छलांग पर और सीख सकते हो RJing के बारे में एक्सपर्ट RJ वेनू से. तो प्रोफेशनल पहुँच बनाइये सही लर्निंग के साथ.